NTT (Nursery Teacher Training)

NTT (Nursery Teacher Training)

 

एनटीटी (नर्सरी टीचर ट्रेनिंग) –
यह 1 वर्ष / 2 वर्ष का कोर्स होता है. इस कोर्स में प्रवेश बारवी कक्षा के अंकों के आधार पर या कई जगहों पर प्रवेश परीक्षा के आधार पर दिया जाता है. प्रवेश परीक्षा में करंट अफेयर्स , जनरल स्टडी, हिन्दी, रीजनिंग, टीचिंग एप्टीट्यूड (Teaching Aptitude) और अंग्रेजी से सवाल पूछे जाते हैं. एनटीटी कोर्स को करने के बाद उम्‍मीदवार प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बनने के योग्य हो जाते हैं.

अगर आप टीचर बनने चाहते है तो कई प्रकार के कोर्स करने पड़ते हैं। कोर्स के बाद टीचर के किस क्षेत्र में नौकरी मिलती है। अक्सर टीचर्स का स्थान सबसे ऊपर ही रहता है। इसलिए अधिकतर लोगों का सपना शिक्षक बनने होता है। टीचर एक बहुत ही अच्छी जॉब होती है, जो कि बहुत ही सुविधाजनक है।नर्सरी टीचर ट्रेनिंग प्रोग्राम में डिप्लोमा को एनटीटी कोर्स के संक्षिप्त नाम से भी जाना जाता है! एनटीटी पाठ्यक्रम का मुख्य उद्देश्य भारत में नर्सरी (प्री-प्राइमरी) स्तर के शिक्षक कार्यबल को पूरा करना है।

यदि आप यह सोच चुके हैं कि आप नन्हे- मुन्ने बच्चों को पढ़ना चाहते हैं और nursery teacher बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपको बारहवीं की परीक्षा पास करनी होगी आप इसके लिए arts के विषय को चुन सकते हैं अगर आप चित्रकला में सिद्धहस्त हैं तो यह कला NTT में आपके बहुत काम आएगी, क्योंकि छोटे बच्चों को चित्रों की भाषा अधिक समझ में आती है । NTT का course आपको किसी मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट से ही करना होगा। उसके बाद NTT कोर्स कर लेते हैं तो किसी भी playboy या प्राइवेट स्कूल में जॉब के लिए apply कर सकते हैं ।