about indian company

about  indian company

about indian company

HCL 1976 में बनी एचसीएल का हेडक्‍वॉटर नोयडा में हैं, एचसीएल 18 देशों में अपनी सेवाएं देती है।


Tcs


1968 में जेआरडी टाटा ने सबसे पहले टाटा की नीव रखी थी। टाटा कंसलटेंसी भारत की 10 सबसे पॉपुलर कंपनियों में से एक है। इसके अलावा भारत की सबसे बड़ी मल्‍टीनेशनल कंपनियों में से एक टाटा कंसलटेंसी 47 देशों में अपनी सर्विस प्रोवाइड करती है।

Wipro विप्रो की नीव 1945 में अजीम प्रेमजी ने रखी थी। विप्रो का हेडक्‍वार्टर आफिस बैंगलोर में हैं। भारत की 10 सबसे बड़ी कंपनियों में विप्रो का नाम भी शामिल है। विप्रो के ऑफिस 50 से भी ज्‍यादा देशों में है।


.

माइक्रोमैक्सभारत

माइक्रोमैक्स भारत मे घरेलू मोबाइल हैंडसेटों की सबसे बड़ी कंपनी है और सबसे बड़ी मोबाइल हैंडसेट विक्रेता भी है, जिसने अपना मार्केट हांगकांग और अब नेपाल भी खोल लिया है! यह भारत में सबसे तेजी से बढ़ता हुआ मोबाइल ब्रांड बन गया है और डेटा कार्ड मे भी अग्रणी सेवा प्रदाता हैं।

 

कार्बनभारत

कार्बन मोबाइल ब्रांड एक प्रमुख भारतीय मोबाइल उपकरण निर्माण कंपनी है, जो की फीचर फोन, स्मार्टफोन, टैबलेट और मोबाइल फोन के सामान का विक्रेता है! कार्बन मोबाइल में एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और जियो JIO जैसे प्रमुख टेलीकॉम खिलाड़ियों के साथ भी टाई अप

 

लावाभारत

लावा इंटरनेशनल लिमिटेड मोबाइल हैंडसेट उद्योग में एक भारतीय बहु-राष्ट्रीय कंपनी है जिसका हेडक्वॉर्टर नोएडा में स्थित है,

साल 2009 में, कंपनी को लावा इंटरनेशनल नाम मिला. कंपनी ने अपना पहला इंटेल बेस्ड स्मार्टफोन उसी साल लॉन्च किया था. कंपनी के मालिक हरी ओम राय, सुनील भल्ला, शैलेंद्र नाथ राय और विशाल सहगल हैं. साल 2012 में चिप मेकर इंटेल ने लावा इंटरनेशनल संग गठजोड़ किया और पहले इंटेल पावर्ड स्मार्टफोन ब्रैंड नेम जोलो (XoLo) के तहत उतारने का ऐलान किया. IDC एशिया पैसिफिक क्वार्टरली मोबाइल फोन ट्रैकर 2014 के मुताबिक, लावा भारतीय मोबाइल बाजार के 8 फीसदी हिस्से पर पकड़ बनाए हुए थी. लावा को ब्रैंड ट्रस्ट रिपोर्ट 2014 में भारत का 5वां भरोसेमंद ब्रांड बताया गया

 

 

इंटेक्सभारत

इंटेक्स टेक्नोलॉजीज एक भारतीय स्मार्टफोन, कंज्यूमर और आईटी एक्सेसरीज निर्माता कंपनी है और तो और यह बिक्री के द्वारा भारत की दूसरी सबसे बड़ी बिक्री वाली मोबाइल फोन कंपनी भी है!

 

आईबॉलभारत

आईबॉल महाराष्ट्र में मुख्यालय वाली एक बहुत ही लोकप्रिय भारतीय इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी में से एक है जो मोबाइल के साथ साथ कंप्यूटर उपकरणों, स्मार्टफोन और टैबलेट का विकास करती है।

Lava ने 3,899 रुपये में लॉन्च किया स्मार्टफोन, जानें कीमत और फीचर्स

LYF: LYF की स्थापना 2015 में टेलीकॉम ऑपरेटर जियो ने की थी. जियो की 4जी सर्विस के साथ साथ इसकी मार्केटिंग ने भी रफ्तार पकड़ी. इसका मुख्यालय मुंबई में है. जनवरी 2016 में, इसने अपना पहले 4जी एनेबल्ड स्मार्टफोन उतारा. मई 2016 में आई इंटरनेशनल मार्केट ट्रेकर काउंटपॉइंट रिचर्स की रिपोर्ट में कहा गया कि LYF भारतीय बाजार में 5वां सबसे बड़ा स्मार्टफोन प्रोड्यूसर है. माइक्रोमैक्स, लिनोवो को पीछे छोड़ते हुए यह सैमसंग के बाद दूसरे नंबर का LTE फोन सप्लायर भी बन गया.

Xolo: XOLO मोबाइल डिवाइस भी एक भारतीय ब्रैंड है जिसका हेडक्वॉर्टर नोएडा, भारत में है. अप्रैल 2012, XOLO ने इंटेल प्रोसेसर के साथ भारत में पहला स्मार्टफोन X900 लॉन्च किया. इंटल प्रोसेसर पर आधारित ऐंड्रॉयड फोन पेश करने वाली जोलो पहली भारतीय स्मार्टफोन निर्माता कंपनी है. कंपनी ने अब तक एंड्रॉयड और विंडोज फोन ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित हैंडसेट लॉन्च किए हैं. हाल ही में जोलो ने ऐंड्रॉयड ओएस पर आधारित अपना यूजर इंटरफेस डेवलप भी किया था जिसे हाइव यूआई के नाम से जाना जाता है.

 

 

भारत की मोबाइल कंपनी कौन कौन सी है माइक्रोमैक्स, लावा, कार्बन, इंटेक्स, XOLO, स्पाइस, lyf, वीडियोकॉन, सेलकॉन, ओनिडा, HCL, विप्रो, iball, AKAI, टी सीरीज, सलोरा, arise और टेक्सला इंडियन कम्पनी है. लेनोवो, असुस, कूलपैड, जियोनी, हुवाई, विवो, ओप्पो और शाओमी (एमआई) चीन की कंपनी है